अतीक अहमद के 11 बैंक खाते हुए सीज

माफियाओं पर लगातार कार्रवाई से बड़े अपराधियों में हड़कम्प

डाँ.लोकनाथ पाण्डेय

वाराणसी। उत्तर प्रदेश में मुख़्तार अंसारी, अतीक अहमद, विजय मिश्र समेत तमाम बाहुबली माफियाओं के खिलाफ लगातार अभियान जारी है। यही वजह है कि पूर्वान्चल में बड़े अपराधी आजकल बेहद डरे हुए है।वाराणसी में मुख़्तार के करीबी अब भूमिगत हो गए तो मेराज समेत कईयों के खिलाफ कार्रवाई हो चुकी है। अब अहमदाबाद जेल में बन्द बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद को आर्थिक चोट पहुंचाते हुए अलग-अलग बैंकों में खोले गए उसके 11 खाते सीज करवा दिए गये हैं। इन खातों में तकरीबन एक करोड़ से ज्यादा रकम है। इसके पहले भी तकरीबन तीन सौ करोड़ की प्रॉपर्टी पर शासन का बुलडोजर चल चुका है।

खातों में एक करोड़ से ज्यादा रकम

जानकारी के मुताबिक, प्रयागराज के सरकारी अमले ने अब बाहुबली के ग्यारह बैंक खातों को सीज करा दिया है। खातों को सीज़ करने की कार्यवाही मंगलवार को औपचारिक तौर पर पूरी कर ली गई। जिन ग्यारह बैंक खातों को सीज कराकर उन्हें कुर्क किया गया है, उनमे सात प्रयागराज और दो -दो नई दिल्ली और यूपी के बलरामपुर जिले में हैं। इन बैंक खातों में तकरीबन एक करोड़ रूपये जमा है।

सभी बैंक खाता चुनावी हलफनामे में आये थे सामने

बता दें कि यह सभी बैंक खाते वही हैं, जिनका डिटेल्स अतीक ने अपने चुनावी हलफनामे में दी थी। दिल्ली और लखनऊ के एक एक बैंक खातों के पहले से ही सीज़ होने की वजह से उन्हें कुर्क नहीं किया गया है। अतीक के जिन ग्यारह बैंक खातों को सीज किया गया है, उनसे अब पैसों का लेन देन नहीं हो सकेगा। प्रयागराज पुलिस ने बैंक खातों को कुर्क करने की कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के तहत की है। प्रयागराज में जिन बैंकों में चल रहे खातों को सीज किया गया है, उनमे इंडियन बैंक, बैंक आफ बड़ोदा, स्टेट बैंक आफ इंडिया और पंजाब नेशनल बैंक शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close