मंडलीय अस्पताल के वरिष्ठ मेडिकल आफिसर डॉ जेपी त्रिपाठी भटौली घाट पक्का पुल के पास से गायब

गंगा नदी मे कूदकर जान देने की आशंका ,सीएमओ पद से डिमोशन होने के बाद से डिप्रेशन में थे डॉक्टर

मिर्जापुर। मण्डलीय अस्पताल के वरिष्ठ मेडिकल आफिसर डॉक्टर जेपी त्रिपाठी शनिवार को वाराणसी से मिर्जापुर अपनी कार से आते समय भटौली गंगा पक्का पुलके पार पहुंच ते ही ड्राइवर से कार रुकवा दी। शौच की बात कहकर गंगा नदी की तरफ चले गये। काफी देर होने पर जब वे नहीं लौटे तब ड्राइवर ने आस -पास उनकी तलाश की । लेकिन वे नहीं मिले। ड्राइवर ने उनकी पत्नी को डॉक्टर के गायब होने की जानकारी दी। जेपी त्रिपाठी की पत्नी सुनंदा कैंसर इंस्टीट्यूट, वाराणसी में डॉक्टर हैं।

उच्च स्तरीय मेडिकल आफिसर के गायब होने की घटना से अफरातफरी मच गई । डॉक्टर जेपी त्रिपाठी की खोज में मौके पर पुलिस अधीक्षक डॉक्टर के गायब होने की सूचना पाकर तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे सारे प्रकरण की जानकारी लिए सुबह 8 बजे प्रातः की घटना डाग स्क्वैड भी मंगाकर जांच प्रक्रिया चालू की गई मोटर बोट से पानी में जाल फेंककर तलाश कराए जाने की व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक ने अपने मातहतों को आदेशित किए वही अनुमान लगाया जा रहा है कि डिमोशन होने के कारण डॉक्टर साहब डिप्रेशन में रहने लगे उनकी पत्नी सुनंदा ने बताया कि जब से सिएओ पद से मेरे पति का डिमोशन हुआ है तब से हमारे पति डिप्रेशन में रहने लगे थे अक्सर घर से निकलते समय कहते थे कि पता नहीं घर वापस आऊंगा कि नहीं यह कह कर वह नमस्ते करके अपने रूटीन के हिसाब से मिर्जापुर के लिए निकल लेते थे वही सुनंदा ने बताया कि ड्राइवर द्वारा मुझे यह जानकारी दी की डॉक्टर साहब भटौली घाट के पास कार रुकवा कर सौच के लिए कह कर गए जब ड्राइवर काफी देर इंतजार किया डॉक्टर नहीं लौटे तो ड्राइवर द्वारा मुझे जानकारी दिया गया जिसकी जानकारी मै तत्काल मिर्जापुर पुलिस अधीक्षक को दिया

वही एडिशनल एसपी बताया कि डॉक्टर के गायब होने के प्रकरण में दो पहलुओं पर जांच चल रही है एक तो डिप्रेशन में होने के कारण आत्महत्या कर सकते हैं दूसरा परिवारिक कलह के चलते भी डॉक्टर द्वारा गलत कदम उठाया जा सकता है दोनों पहलुओं पर जांच चल रही है जल्द ही सारे प्रकरण का खुलासा हो जाएगा मौके पर पुलिस अधीक्षक मिर्जापुर, एडिशनल एसपी नगर,सिओ सदर , इंस्पेक्टर देहात कोतवाली, इंस्पेक्टर थाना कछवा, चौकी इंचार्ज गोणसन्डि मौजूद रहे .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close