logo
भारत-पाकिस्तान द्विपक्षीय सीरीज की बहाली सरकार के हाथों में : गांगुली
 

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला की बहाली संबंधित सरकारों के हाथों में है, न कि क्रिकेट बोर्डाें के।उल्लेखनीय है कि आईसीसी आयोजनों को छोड़कर दोनों पड़ोसी देशों को एक-दूसरे के खिलाफ खेले हुए बहुत लंबा समय हो गया है। दोनों देशों ने अपनी आखिरी द्विपक्षीय सीरीज 2012 में खेली थी। पाकिस्तानी टीम ने इस भारतीय दौरे पर तीन वनडे और दो टी-20 मैच खेले थे। वनडे सीरीज 2-1 से पाकिस्तान के नाम रही थी, जबकि टी-20 श्रृंखला 1-1 से ड्रॉ हुई थी।गांगुली ने बीते शुक्रवार को 40वें शारजाह अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले में एक सवाल के जवाब में भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला न होने के पीछे कूटनीतिक कारणों को वजह बताया।

उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकारों की अनुमति और सहमति की जरूरत है, न कि क्रिकेट बोर्डाें की।उल्लेखनीय है कि इससे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के प्रमुख रमीज राजा ने कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला आयोजित करना असंभव है। दोनों देशों की टीमों के बीच हालांकि आईसीसी टी-20 विश्व कप 2021 के लीग चरण के शुरुआती मैच में भिड़ंत हुई थी, जहां आईसीसी टूर्नामेंटों के इतिहास में पहली बार पाकिस्तान ने भारत को हराया था। पाकिस्तान ने इसके बाद अपने सभी मैच जीत कर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी, जहां उसे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ राेमांचक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। वहीं दूसरी ओर भारतीय टीम पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से हारने और अन्य तीन टीमों से जीतने के बाद छह अंकों के साथ सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई थी।