logo
इस इत्र का ब्रांड जिन्ना, तालिबान या सैफई नाम से ठीक लगेगा

अखिलेश का यह इत्र सुगंध नहीं गंध ही फैलाएगा: सिद्धार्थ नाथ

 

लखनऊ । "अखिलेश जी आपका इत्र नफरत, आतंकवाद, भ्रष्टाचार, तुष्टिकरण व भाई-भतीजावाद की गंध ही फैलाएगा। सुंगध तो कतई नहीं। आपमे इस इत्र की ब्रांडिंग में लोहिया और जयप्रकाश के समाजवाद की खुश्बू आने से रही। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के 'समाजवादी इत्र' लांचिंग पर यह करारा तंज कसा है प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री. सिद्धार्थनाथ सिंह ने। मंगलवार को जारी बयान में उन्होंने कहा कि जिन्ना को सरदार पटेल के समकक्ष साबित करने की कुत्सित मानसिकता रखने वाले समाज में सौहार्द की महक फैलाने की बात आखिर किस मुंह से करते हैं। जिसे देश को तोड़ने वाले और देश को जोड़ने वाले के बीच अंतर ही पता नहीं है, उसका इत्र भी समाज और देश के बीच बंटवारे की ही बदबू फैलाएगा। 

बता दें कि 'समाजवादी इत्र' को लेकर अखिलेश यादव ने आज एक ट्वीट में लिखा, 'इसलिए तोहफे में दी है सबको महक, क्योंकि न देता है खुश्बू झूठ का फूल।' इसके जवाब में सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि बेहतर होता कि अखिलेश यादव इस इत्र को समाजवादी की बजाय जिन्ना, तालिबान, नफरत या सैफई ब्रांड से लांच करते क्योंकि यह उनका यह इत्र तुष्टिकरण की राजनीति पर फुहारे के लिए है। इस इत्र से सपा से जिस आतंकवाद,अराजकता,नफरत,जातिवाद और क्षेत्रवाद की बू आती है वह जाने से रही।