logo
वाराणसी में 26 नवंबर को मनाया जाएगा संविधान शक्ति युग
 

संविधान दिवस पर संविधान शक्ति युग मनाने की तैयारी जोरों पर

वाराणसी : दलित फ़ाउंडेशन के प्रमुख मार्टिन मैकवान के राष्ट्रीय आह्वान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी 26 नवंबर, 2021 को संविधान दिवस पर साढ़े तीन सौ से अधिक गाँव-मुहल्ले और बस्तियों में ‘संविधान शक्ति युग’ मनाने की तैयारी जोरों पर है। इस आयोजन को सफल बनाने के लिए उपर्युक्त फाउंडेशन से जुड़े सभी स्थानीय कार्यकर्ताओं ने ऐड़ी चोटी का दम लगा दिया है।

फ़ाउंडेशन से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष संविधान दिवस पर संविधान शक्ति युग विभिन्न समुदाय के साथ लोग मिल जुलकर मनाएँगे। पीड़ित, पिछड़ा व वंचित वर्ग के लोगों के हक-हकूक की लड़ाई को मजबूती प्रदान करने एवं उन्हें अपने अधिकार के लिए जागरूक करने के उद्देश्य से आयोजित होने वाले ‘संविधान शक्ति युग’ के लिए सामाजिक कार्यकर्ता गांव-गांव घूमकर जनसंपर्क कर रहे हैं। जनसंपर्क की कड़ी में बुधवार को विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं, संगठनों और पंचायत प्रतिनिधियों से भेंट कर संविधान शक्ति युग मनाने की अपील की।

संविधान से हम सबको अधिकार मिला है-

एसटी, एससी, ओबीसी, माइनॉरिटी देश में एक समान रहकर जीवनयापन करते हैं। हम सबके जीवन में सभी का सहयोग रहता है। इसलिए संयुक्त रूप से संविधान दिवस मनाकर अपनी एकता और एकजुटता का मजबूत संदेश देंगे। संविधान दिवस मनाने की तैयारी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बतौर सांसद आदर्श गाँव नागेपुर स्थित अम्बेडकर पार्क में 25 नवंबर को  सायं 4 बजे संयुक्त समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी, जिसमें एसटी, एससी, ओबीसी और माइनॉरिटी समुदाय सहित विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी को उपस्थिति रहने की अपील की गई है।

फ़ाउंडेशन से जुड़े डा. गोरखनाथ ने बताया कि संविधान शक्ति युग मनाने के आयोजन को सफल बनाने के लिए गठित की गयी टीमें लगातार गांवों में जनसम्पर्क कर रही है। बुधवार को टीमों ने जनकवि धूमिल के गाँव खेवली, बीरभानपुर, हरपुर, हरसोस, जंसा, मोहनसराय, राजातालाब, सिंगही, मुंगवार,  सहित एक दर्जन गांवों में दौरा कर जनसम्पर्क किया। फ़ाउंडेशन के डिप्टी डायरेक्टर प्रदीप मोरे ने बताया कि उक्त आयोजन वाराणसी के 368, प्रयागराज के 349, जालौन के 351, गोरखपुर के 15, जौनपुर के 85, चित्रकूट के 10, अकबरपुर के 20 और कानपुर देहात के 20 गाँवों-मुहल्लो में आयोजित किया जाएगा। उक्त आयोजन को वाराणसी में सफल बनाने के लिए राजकुमार गुप्ता, डा. गोरखनाथ, सुमन देवी, अनिल कुमार, रमेश कुमार, ममता, रेनू देवी, अमलेश कुमार, जीरा, साधना गुप्ता और शैलेन्द्र कुमार सहित कई लोग लगातार गाँव, मुहल्ला और बस्तियों में जन सम्पर्क करने के साथ सोशल मीडिया पर भी लोगों से अपील कर रहे हैं।