logo
'योग की पाठशाला’ में मिलेंगे सेहतमंद रहने के टिप्स

• वाराणसी, चंदौली, भदोही के 29 ‘आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर योग गुरुओं की तैनाती शुरू

 

• योग के जरिए उपचार करने के साथ ही निरोग रहने की भी सिखायेंगे कला

वाराणसी I वाराणसी, चंदौली व भदोही के 29 “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” पर जल्द ही ‘योग की पाठशाला’ शुरू की जाएगी। यहां स्वस्थ जीवन के जरूरी गुर तो सिखाये ही जायेंगे साथ ही योग के जरिए विभिन्न रोगों का उपचार भी किया जाएगा। इसके लिए केन्द्रों पर योग गुरुओं की तैनाती शुरू कर दी गयी है। इनमें महिला योगाचार्य भी शामिल हैं। प्रदेश सरकार लोगों को सेहतमंद बनाने के लिए चिकित्सा के साथ ही योग के बारे में भी जागरूक कर रही है। आयुष मिशन के तहत इसके लिए वाराणसी सहित प्रदेश के सभी जिलों में “हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” खोले गये हैं। इसी क्रम में वाराणसी में आठ, भदोही में 10 और चंदौली में 11 “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” खोले गये हैं।

क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डॉ भावना द्विवेदी ने कहा कि आयुर्वेद रोगों के उपचार के साथ स्वस्थ रहने की जीवनशैली भी सिखाता है । इसका पालन करने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है जिससे सामान्य संक्रमण बेअसर हो जाते हैं। गंभीर रोगों के घातक परिणाम की आशंका बहुत कम हो जाती है। “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” की स्थापना का मुख्य उद्देश्य स्वस्थ व संतुलित खान-पान व स्वस्थ जीवनशैली की मदद से रोग प्रतिरोधक क्षमता को कैसे मजबूत कर रोगों से बचा जा सकता है, इसकी जानकारी देना भी है । स्वस्थ रहने के लिए जो लोग योग सीखना चाहेंगे, उन्हें इन सभी केन्द्रों पर योग का प्रशिक्षण निःशुल्क दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि प्रत्येक “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” पर एक पुरुष और एक महिला योग शिक्षक तैनात रहेंगे। वाराणसी के सभी आठ केन्द्रों के लिए 16 योग शिक्षकों का चयन कर लिया गया है जबकि भदोही में सात व चंदौली में छह योग शिक्षक चयनित किये गए है। शेष पदों पर योग गुरुओं की चयन प्रक्रिया जारी है। जल्द ही चयन के बाद उनकी भी तैनाती कर दी जाएगी।

यहाँ चलेगी योग निःशुल्क पाठशाला 

वाराणसी के “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” रामनगर, आयर, पलहीपट्टी, सिंधोरा, मंगारी, भाद्रासी, कठिरावं, रामेश्वर में योग की पाठशाला चलेगी। चन्दौली के “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” गहिला, भुजना, सदलपुरा, केशवपुर, पचोखर, सिकन्दरपुर, मारूखपुर, शहाबगंज, मझगांवा, बबुरी, सरैयाबसाढी एवं भदोही के “आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” मोढ़, चौरी, वरवा, पल्ल्हिया, महराजगंज, खमहरिया, सुनेचा, सुधवा, सुरियावां,पाली में योग की पाठशाला चलेगी।

महिलाओं के लिए होगा बेहद लाभकारी -

“आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर” महिलाओं के लिए बेहद लाभकारी होगा। खास तौर पर गर्भवती के लिए। इन केन्द्रों पर आने वाली गर्भवती को योगासन सिखाने के साथ ही उन्हें स्वस्थ खान-पान और जीवन शैली के बारे में भी समझाया जाएगा जिससे स्वयं तो स्वस्थ रहें ही साथ ही स्वस्थ बच्चे को भी जन्म दे सकें। आवश्यकतानुसार सम्बन्धित दवाएं भी निःशुल्क दी जाएंगी। महिलाओं को योग प्रशिक्षण लेने में कोई परेशानी न हो इसके मद्देनजर ही सभी केन्द्रों पर एक महिला योग शिक्षिका की तैनाती की गयी है।

योग के साथ ही पंचकर्म भी –

डॉ भावना द्विवेदी के अनुसार ‘योग-ध्यान’ शारीरिक-मानसिक स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने में सहायक है जबकि पंचकर्म समस्त शारीरिक विकारों को दूर करता है। इसे ध्यान में रखते हुए सभी केन्द्रों पर पंचकर्म की भी निःशुल्क व्यवस्था की गयी है। इसके जरिये रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी, इसके साथ ही यदि उसे कोई शारीरिक विकार है तो उसे पंचकर्म के जरिए दूर किया जा सकेगा।