logo
आज का पंचांग : भीष्म पंचक व्रत समाप्त
 

राष्ट्रीय मिति कार्तिक 29, शक संवत् 1943, मार्गशीर्ष कृष्ण प्रतिपदा शनिवार, विक्रम संवत् 2078। सौर मार्गशीर्ष मास प्रविष्टे 05, रवि-उल्सानी 14, हिजरी 1443 (मुस्लिम) तदनुसार अंग्रेजी तारीख 20 नवंबर सन् 2021 ई॰।

सूर्य दक्षिणायन, दक्षिणगोल, हेमन्त ऋतुः। राहुकाल प्रातः 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक। प्रतिपदा तिथि सायं 5 बजकर 5 मिनट तक उपरान्त द्वितीय तिथि का आरंभ।

रोहिणी नक्षत्र सूर्योदय से लेकर अगले दिन प्रातः 7 बजकर 36 मिनट तक उपरान्त मृगशिरा नक्षत्र का आरंभ, शिव योग अगले दिन तड़के 4 बजकर 50 मिनट तक उपरान्त सिद्ध योग का आरंभ।

कौलव करण सायं 5 बजकर 5 मिनट तक उपरांत गर करण का आरंभ। चंद्रमा दिन रात वृष राशि पर संचार करेगा।

आज के व्रत-त्योहार : श्री भीष्म पंचक व्रत समाप्त, गुरु कुंभ राशि में प्रवेश

सूर्योदय : सुबह 6 बजकर 48 मिनट पर

सूर्यास्त : शाम 5 बजकर 26 मिनट पर

आज का शुभ मुहूर्त :

अभिजीत मुहूर्त दोपहर 11 बजकर 45 मिनट से 12 बजकर 28 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 1 बजकर 53 मिनट से 2 बजकर 35 मिनट तक रहेगा। निशीथ काल मध्‍यरात्रि 11 बजकर 40 मिनट से 12 बजकर 34 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 5 बजकर 15 मिनट से 5 बजकर 39 मिनट तक। अमृत काल मध्‍य रात्रि के बाद 3 बजकर 39 मिनट से सुबह 5 बजकर 48 मिनट तक। आज अमृत सिद्धि योग और सर्वार्थ सिद्धि योग पूरे दिन रहेगा। ब्रह्म मुहूर्त सुबह 5 बजकर 1 मिनट से 5 बजकर 54 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त :

राहुकाल सुबह 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक। सुबह 6 बजे से 7 बजकर 30 मिनट तक गुलिककाल रहेगा। दोपहर 1 बजकर 30 मिनट से 3 बजकर 30 मिनट तक यमगंड रहेगा। दुर्मुहूर्त काल सुबह 6 बजकर 48 मिनट से 8 बजकर 13 मिनट तक। इसके बाद दोपहर 02 बजकर 36 मिनट से 03 बजकर 18 मिनट तक।

आज के उपाय : शनि स्तोत्र का पाठ करें और काली वस्‍तुओं का दान करें।