logo
स्वीप की बैठक में महिला वोटरों, युवा वोटरों को बढ़ाने व दिव्यांग जनों का वोटर रजिस्ट्रेशन कराने पर जोर

1 नवंबर से होने वाले मतदाता पुनरीक्षण में वोटर बनाने हेतु 1 जनवरी, 2022 को 18 वर्ष पूर्ण का आधार होगा

 

     वाराणसी। मुख्य विकास अधिकारी/नोडल अधिकारी स्वीप अभिषेक गोयल की अध्यक्षता में मंगलवार को विकास भवन सभागार में स्वीप की बैठक संपन्न हुई। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्वीप कार्य हेतु अपनी कार्ययोजना बना ले। आगामी 21 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक ग्राम पंचायत से लेकर जिला स्तर तक विभिन्न आयु वर्गो की ओपन खेल प्रतियोगिताएं होंगी। उनमें स्वीप कार्यक्रमों को भी जोड़ सकते हैं। इससे आम जनों में मतदाता जागरूकता होगी। जनपद में पुरुष व महिला जेंडर का आबादी के हिसाब से अनुपात के सापेक्ष महिलाओं का वोटर अनुपात कम हैं। 18 से 19 वर्ष के बीच के यूथ वोटर का प्रतिशत भी मानक से कम है तथा दिव्यांग जनों का प्रतिशत भी कम है। इन तीनों बिंदुओं पर फोकस करना है।महाविद्यालयों, बड़े कालेजों में कैंप लगाकर पोर्टल हेतु रजिस्ट्रेशन कराएं।


        अपर जिलाधिकारी प्रशासन/उप जिला निर्वाचन अधिकारी रणविजय सिंह ने बताया कि 1 नवंबर से 30 नवंबर तक मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम होगा। 1 जनवरी, 2022 को 18 वर्ष पूर्ण होने का आधार मानकर पात्र लोगों को मतदाता बनाया जाए। मतदाता जागरूकता को व्यापकता दी जाए। हर पात्र व्यक्ति वोटर बने। हर वोटर मतदान करें। लोग अपने वोट की महत्ता जाने। मजबूत लोकतंत्र के लिए पूर्ण व शुद्ध मतदाता सूची का होना तथा अधिकतम मतदाताओं द्वारा अपने मत का स्वेच्छा से प्रयोग करना है।
       बैठक में नीलू मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।