logo
पिछली सरकारों में कब्रिस्तान पर बर्बाद होने वाला पैसा अब धर्म के काम में: योगी
भगवान राम ने निषाद राज जैसी जातियों को दिया पूरा सम्मान दिया: सीएम
 
 
गोली चलाने वाले अब रामभक्त बनने की प्रक्रिया में:योगी
 

15 करोड़ लोगों को अब मार्च तक मिलेगा अनाज: खाद्यान्न के अलावा दाल, नामक, तेल और चीनी भी

लखनऊ/अयोध्या 03 नवम्बर अब समय बदल गया है, भगवान राम की नगरी में उनका भव्य मंदिर बन रहा है। पांचवें दीपोत्सव में 12 लाख दीप जलाकर एक नया रिकार्ड बनाया जा रहा है। जनता के धैर्य ने गलत कर्म करने वाले लोगों को पश्चाताप के मजबूर कर दिया है। जो कभी रामभक्तों पर गोली चलाने को लेकर गर्व करते थे वह अब रामभक्त बनने की प्रक्रिया में है। मंगलवार को अयोध्या के दीपोत्सव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि रामभक्तों पर गोली चलाने वाले अब अपने परिवार के साथ रामभक्त बनते नजर आएंगे। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की जनता को तोहफा देते हुए कहा कि लगभग 15 करोड़ लोगों को अब मार्च 2022 तक मुफ्त अनाज मिलेगा। इसमें चावल, गेहूं के साथ-साथ दाल और तेल भी दिया जाएगा। 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 में अयोध्या जैसी पावन धरती पर दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन शुरू किया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिशा-निर्देश में शुरू हुआ दीपोत्सव देखते-देखते देश का प्रमुख कार्यक्रम बन गया। सरकार ने तय किया कि अगर अयोध्या को पहचान दिलानी है तो रामराज्य की स्थापना के लिए दीपोत्सव कार्यक्रम भव्य रूप से किया जाना चाहिए। आज का दिन है कि तीन देशों के राजदूत यहां बैठे हैं। देश-प्रदेश के मूर्धन्य मूर्तियां इस कार्यक्रम में शामिल हो रही है। इससे प्रदेश की जनता की भावनाओं को सम्मान मिला है। उन्होने याद दिलाते हुए कहा कि 2017 से यही नारा जनता लगा रही थी कि योगी जी एक काम करो मंदिर का निर्माण करो। आप भूल गए लेकिन हम यह नारा नहीं भूले और मंदिर का निर्माण किया जा रहा है। वह भी पूज्य संतों के इच्छानुसार। विश्व हिन्दू परिषद, हमारे उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी इस आंदोलन से जुड़े रहे हैं। समाजवादी पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि इनकी सत्ता में रामभक्त होना अपराध होता था। रामभक्तों पर गोली चलाने में गर्व महसूस करते थे, लेकिन अब समय बदल गया है कि यही रामभक्तों पर गोली चलाने वाले रामभक्त बनने की प्रक्रिया में हैं। आने वाले दिनों में यही गोली चलाने वाले अपने पूरे परिवार के साथ भगवान राम की पूजा करते दिखेंगे। यह भगवान राम की ताकत है कि इनको सही दिशा में लाएंगे, क्योंकि राम भगवान ने निषाद राज जैसी जातियों को भी पूरा सम्मान दिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की राज में हर गरीब को मकान, बिजली का कनेक्शन, रसोई गैस का कनेक्शन फ्री, इलाज के लिए पांच लाख का बीमा फ्री दिया जा रहा है। आत्मनिर्भर भारत और आयुष्मान योजना से गरीबों और जरुरतमंद लोगों को एक संबल दिया। डेढ़ वर्ष से अधिक समय हो चुका है। कोरोना महामारी में दुनिया फंसी हुई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में फ्री में इलाज, फ्री राशन और यही नहीं पूरे देश में फ्री वैक्सीन लगाई जा रही है। कोरोना से अभी भी बचने की जरूरत है। यह अभी गया नहीं है बल्कि कंट्रोल में किया गया है। इसीलिए प्रदेश सरकार कोरोना वैक्सीन अभियान को होली तक लेकर जाएगी, जिससे कोरोना की रोकथाम उचित तरीके से की जा सके। उन्होंने लोगों से अपील है कि कोरोना वैक्सीन जरूर लगवाएं। यह खुशी की बात है कि हम अयोध्या नगरी में लगातार पांचवी बार दीपोत्सव का आयोजन कर रहे हैं। अब अयोध्या पूरी दुनिया में एक सांस्कृतिक धरोहर के रूप में पहचानी जाएगी। सरकार ने अयोध्या के साथ ही काशी में बाबा विश्वनाथ मंदिर का निर्माण, मां विन्ध्यांचल के कारीडोर का निर्माण और नैमिषारण्य में भी विकास किया जा रहा है। पिछली सरकारों में कब्रिस्तान में बर्बाद होने वाला पैसा अब धार्मिक कार्यों में इस्तेमाल किया जा रहा है। अयोध्या में भव्य राममंदिर के साथ-साथ विश्व के लिए यह पर्यटन का केन्द्र भी बनेगा। अभी तक केवल डेढ़ लाख श्रद्धालु ही आ रहे हैं लेकिन अयोध्या को पर्यटन के शीर्ष पर लाने के लिए लगभग पांच करोड़ पर्यटकों को लाने की तैयारी है। अयोध्या में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाया जा रहा है। रामनगरी केवल आध्यात्मिक केन्द्र ही नहीं बल्कि रोजगार के लिए भी अयोध्या एक बड़ा केन्द्र बनेगा। 

   इस मौके पर एक बड़ी घोषणा में मुख्यमंत्री ने   बताया कि  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना  के तहत राज्य सरकार की ओर से अब मार्च 2022  तक निशुल्क खाद्यान्न दिया जायेगा। योजना के तहत प्रदेश के 15 करोड़ जरूरतमन्द लोग पहले से ही फ्री राशन पा रहे हैं जिसकी अवधि बढ़ा कर होली तक की जा रही है। 

उन्होंने बताया कि अन्त्योदय कार्डधारकों को मिलने वाले खाद्यान्न के तहत चावल, गेहूं ही  नहीं, बल्कि 01 किलो दाल, 01 लीटर खाद्य तेल, 01 किलो नमक और 01 किलो चीनी अतिरिक्त दी जाएगी

इसके अलावा पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को मिलने वाले खाद्यान्न के अलावा 01 किलो दाल, 01 लीटर खाद्य तेल और 01 किलो नमक निःशुल्क दिया जाएगा