logo
भाजपा के खिलाफ सपा ने तहसीलों पर किया प्रदर्शन, सौपा 8 सूत्रीय मांग पत्र
वाराणसी। एक तरफ प्रधानमंत्री शहर में तमाम विकास योजनाओं का लोकार्पण कर रहे थे तो वही समाजवादी पार्टी के लोग विभिन्न तहसीलों पर प्रदर्शन कर सरकार की घेराबंदी करने में लगे थे। इसी क्रम में राजातालाब तहसील पर पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल तथा पूर्व रोहनिया विधायक महेंद्र सिंह पटेल के नेतृत्व में सेवापुरी …
 
भाजपा के खिलाफ सपा ने तहसीलों पर किया प्रदर्शन, सौपा 8 सूत्रीय मांग पत्र

वाराणसी। एक तरफ प्रधानमंत्री शहर में तमाम विकास योजनाओं का लोकार्पण कर रहे थे तो वही समाजवादी पार्टी के लोग विभिन्न तहसीलों पर प्रदर्शन कर सरकार की घेराबंदी करने में लगे थे। इसी क्रम में राजातालाब तहसील पर पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल तथा पूर्व रोहनिया विधायक महेंद्र सिंह पटेल के नेतृत्व में सेवापुरी तथा रोहनिया विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन किया गया। इसदौरान पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल ने धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में ब्लाक प्रमुख व जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में सरकार द्वारा भारी धाधली हुई। बढ़ती हुई महंगाई बिगड़ती कानून व्यवस्था से जनता परेशान है।

सपा के कार्यकर्ताओं को फर्जी केस लगाकर मनोबल को तोड़ने एवं डीजल व पेट्रोल के दामों में बेतहाशा वृद्धि असह्य है। इसके अलावा कई बिंदुओं पर प्रदेश व केंद्र सरकार पर निशाना साधा। वक्ताओं की कड़ी में पूर्व जिला अध्यक्ष आत्माराम यादव तथा राम सिंह यादव और दिनेश सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश तथा केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए उपस्थित समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से अखिलेश को फिर से मुख्यमंत्री बनाने का आवाहन किया। अंत में पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल ने राजातालाब उप जिला अधिकारी सिद्धार्थ यादव को राष्ट्रपति के नाम 8 सूत्रीय मांग पत्र सौपा।

धरना प्रदर्शन में कन्हैया राजभर, आत्मा राम यादव, राम सिंह यादव, दिनेश यादव, गोपाल यादव, कंठी यादव, जय यादव, संतोष यादव, केशनाथ यादव, अहकू यादव, जितेंद्र यादव, शीतला यादव, प्रकाश यादव, उमा यादव, रेखा पाल, शशि यादव, अमलेश पटेल, श्यामलाल चौहान, ओंकार नाथ विश्वकर्मा, गुड्डू यादव, मनोज सिंह, कन्हैया लाल यादव, सुदामा यादव, सर्वजीत राजभर, बालकिशुन यादव इत्यादि लोग उपस्थित रहे।