logo
शेयर बाजार में उछाल; खुदरा महंगाई, वाहन बिक्री एवं तिमाही परिणाम का रहेगा असर
 

बीते सप्ताह लगभग डेढ़ प्रतिशत का उछाल देख चुके शेयर बाजार पर अगले सप्ताह जारी होने वाली खुदरा महंगाई, वाहन बिक्री और कंपनियों के तिमाही परिणाम के आंकड़ों का असर रहेगा।समीक्षाधीन सप्ताह में 60 हजार अंक से नीचे लुढ़का बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सप्ताहांत पर 760.69 प्रतिशत की छलांग लगाकर 60067.62 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 247.15 अंक उछलकर 17918.80 अंक पर पहुंच गया।बीते सप्ताह पांच में से तीन दिन काम हुआ था। दिवाली के दिन और उसके बाद बलिप्रतिपदा के दिन कारोबार नहीं हुआ था। दिवाली के दिन मुहूर्त कारोबार हुआ था।

बीते सप्ताह दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मझौली कंपनियों में भी तेजी रही। बीएसई का मिडकैप 2.82 प्रतिशत की मजबूती के साथ 25992.28 अंक और स्मॉलकैप 2.7 प्रतिशत चढ़कर 28740.77 अंक पर रहा। पिछले सप्ताह दीपावली पर्व पर अवकाश के कारण शेयर बाजार में मात्र चार दिन ही कारोबार हुआ।विश्लेषकों के अनुसार, वैश्विक बाजार के लिए 10 नवंबर काफी महत्वपूर्ण रहेगा। इस दिन अमेरिका और चीन में महंगाई के आंकड़े जारी होंगे, जिसका असर बाजार पर रहेगा। इसी तरह घरेलू स्तर पर 12 नवंबर को औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ाें के अलावा मुत्थुट फाइनेंस, सन टीवी, अरविंदो फार्मा, ब्रिटानिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा के चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के आंकड़े जारी होंगे। साथ ही अगले सप्ताह अक्टूबर की वाहन बिक्री के आंकड़े भी आएंगे। इसका असर बाजार पर देखा जा सकेगा।उनका कहना है कि अगले सप्ताह बाजार के लिए विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) का व्यवहार भी काफी महत्वपूर्ण होगा क्योंकि वे लगातार बिकवाली कर रहे हैं। यदि वे अपने मौजूदा मूड के साथ बने रहते हैं तो बाजार में और करेक्शन हो सकता है।